ताज़ा खबरें

विषेश

भारतीय नौ सैनिकों की वीरता व पराक्रम को याद दिलाता है नौसेना दिवस

आकाश ज्ञान वाटिका, देहरादून। 4 दिसम्बर, 2019, बुधवार। भारतीय नौसेना दिवस, 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध में जीत हासिल करने वाली भारतीय नौसेना की शक्ति और बहादुरी को याद करते हुए मनाया जाता है । ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के तहत 4 दिसंबर, 1971 को भारतीय नौसेना ने पाकिस्तान के कराची नौसैनिक अड्डे पर हमला बोल दिया था। इस ऑपरेशन की सफलता को ...

Read More »

पूर्ण रूप से प्राकृतिक सेंधा नमक स्वास्थ के लिए बहुत ही लाभदायक है

आकाश ज्ञान वाटिका। ३ दिसंबर, २०१९, मंगलवार। सेंधा नमक पूर्ण रूप से प्राकृतिक है जो पहाड़ों से निकला जाता है। सम्पूर्ण उत्तर भारतीय उपमहाद्वीप में यह नमक सिंध, पश्चिमी पंजाब के सिन्धु नदी के साथ लगे हुए स्थानों और ख़ैबर-पख़्तूनख़्वा के कोहाट जनपद से आया करता था जो अब पाकिस्तान में हैं और जहाँ यह ज़मीन में मिलता है। ‘सेंधा ...

Read More »

NAVY DAY – to recognize the achievements and role of the Indian Navy to the country

Navy Day in India is celebrated on 4 December every year to recognize the achievements and role of the Indian Navy to the country.  4 December was chosen as on that day in 1971, during Operation Trident, the Indian Navy sank four Pakistani vessels including PNS Khaibar, killing hundreds of Pakistani Navy personnel. On the day, those killed in the Indo-Pakistan War of 1971 are also remembered. Navy Day in India originally ...

Read More »

लेक कार्निवल भीमताल – २०१९ के रंगारंग, मनमोहक कार्यक्रम का आयोजन १ दिसंबर से ३ दिसंबर २०१९ तक किया जायेगा

आकाश ज्ञान वाटिका, नैनीताल 26 नवम्बर 2019(मंगलवार)। जिला प्रशासन, नैनीताल (District Administration, Nainital) एवं लेक कार्निवल आयोजन समिति (पंजी.)(Lake Carnival Aayojan Samiti) द्वारा लेक कार्निवल भीमताल – २०१९(Lake Carnival Bhimtal-2019) के रंगारग, मनमोहक कार्यक्रम का आयोजन १ दिसंबर से ३ दिसंबर २०१९ तक किया जा रहा है जिसके प्रायोजक(sponsor) उत्तराखंड टूरिज्म (Uttarakhand Tourism) है। कार्निवल के द्वारा उत्तराखंड की संस्कृति, ...

Read More »

जिला सूचना कार्यालय में “राष्ट्रीय प्रेस दिवस” पर ‘रिपोर्टिंग-व्याख्या (इंटरप्रिटेशन)’ विषय पर चर्चा हेतु गोष्ठी का आयोजन

आकाश ज्ञान वाटिका(देहरादून) । 16 नवम्बर 2019, ‘‘राष्ट्रीय प्रेस दिवस-2019’’ के अवसर पर जिला सूचना कार्यालय में जिला सूचना अधिकारी प्रकाश सिंह भण्डारी की अध्यक्षता में एक यात्रा विषय पर गोष्ठी/चर्चा का आयोजन किया गया। गोष्ठी में चर्चा का विषय था, ‘रिपोर्टिंग-व्याख्या (इंटरप्रिटेशन)’। इस अवसर जिला सूचना अधिकारी ने प्रेस दिवस की बधाई देते हुए सभी उपस्थित पत्रकारों का आभार व्यक्त ...

Read More »

कंडाली/सिन्न या सिसौण – बहुपयोगी औषधीय झाड़ है

आकाश ज्ञान वाटिका (13 नवंबर 2019) । कंडाली, Nettle या बिच्छू घास के नाम से जानी जाने वाली वनस्पति है जो नेपाल व हिमालय क्षेत्र की मध्य पहाड़ी क्षेत्र में मिलने वाले अट्रिक्यसी परिवार का एक तेज जलन पैदा करने वाला झाड़ है। बिच्छू धास को कुमाऊनी भाषा में “सिन्न या सिसौण” कहा जाता है तथा गढ़वाली भाषा में इसे “कंडाली” ...

Read More »

अपनी संस्कृति व कला के प्रचार प्रसार एवं संरक्ष्ण के लिए हर सम्भव प्रयास करें

अपनी संस्कृति को जानो, सुख इसी  में है  ये मानो ।   जिस तरह हमारा देश, भारत अपनी अनुपम संस्कृति व कला के लिए विश्व में श्रेष्ठ स्थान रखता है ठीक उसी तरह देवभूमि उत्तराखण्ड अपनी पवित्र संस्कृति व कला के लिए देश भर में प्रसिद्ध है। देवभूमि उत्तराखण्ड पहाड़ व गाँवों का प्रदेश है जिसकी कला व संस्कृति अन्य ...

Read More »

दि सैनिक सहकारी आवास समिति लि०, देहरादून के लिए ऐतिहासिक व गौरवशाली दिन – विख्यात ब्रह्मोस मिसाइल की प्रतिकृति की स्थापना व अनावरण

आकाश ज्ञान वाटिका, देहरादून। १० नवम्बर, २०१९, रविवार। कल, शनिवार, ९ नवम्बर को राज्य स्थापना दिवस के शुभ अवसर पर भारत सरकार के ब्रह्मोस विभाग द्वारा, सैनिक सहकारी आवास समिति लि०,  डिफेन्स कॉलोनी,  देहरादून में विख्यात सुपरसॉनिक क्रूज मिसाइल “ब्रह्मोस” की प्रतिकृति (मॉडल) की विधिवत स्थापना एवं अनावरण प्रातः १० बजे, समिति के अध्यक्ष कैप्टन टी. पी. कुण्डिलया, अपर आयुक्त ...

Read More »

सिर्फ मसाला ही नहीं औषधि भी है काली मिर्च

आकाश ज्ञान वाटिका। खाने को तीखा स्वाद देने वाली काली मिर्च सिर्फ मसाला ही नहीं औषधि भी है। काली मिर्च में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। खानपान की लापरवाही और बढ़ते प्रदूषण के कारण होने वाले बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन से बचाव में काली मिर्च सहायक है। आयुर्वेद के अनुसार काली मिर्च की तासीर गर्म होती है। ...

Read More »

पारिवारिक सुख-समृद्धि तथा मनोवांछित फल प्राप्ति के लिए मनाया जाने वाला पर्व है “छठ-पूजा”

आकाश ज्ञान वाटिका। भारत में पारिवारिक सुख-समृद्धि तथा मनोवांछित फल प्राप्ति के लिए, सूर्योपासना का प्रसिद्ध पर्व है छठ। मूलत: सूर्य षष्ठी व्रत होने के कारण इसे छठ कहा गया है। यह पर्व वर्ष में दो बार मनाया जाता है। पहली बार चैत्र में और दूसरी बार कार्तिक में। चैत्र शुक्ल पक्ष षष्ठी पर मनाये जाने वाले छठ पर्व को ...

Read More »