ताज़ा खबरें

मुख्यमंत्री के नैनीताल आगमन को लेकर जिलाधिकारी सविन बंसल के निर्देशन में कलैक्ट्रेट को दुल्हन की तरह सजाया गया

आकाश ज्ञान वाटिका, ३० नवम्बर, २०१९ शनिवार, नैनीताल (सूचना)। रविवार १ दिसंबर को मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के कलैक्ट्रेट आगमन को लेकर जिलाधिकारी सविन बंसल के निर्देशन में कलैक्ट्रेट को दुल्हन की तरह सजाया गया है। कलैक्ट्रेट के आस-पास की बदनुमा दीवारों पर आकर्षक वाॅल पेंटिंग स्कूली बच्चों द्वारा जिलाधिकारी के मार्ग-दर्शन में तैयार की जा रहीं हैं। गौरतलब है कि प्रदेश के मुखिया प्रथम बार कलैक्ट्रेट आ रहे हैं, जहाॅ जिलाधिकारी के निर्देशन में तैयार किए गए तृप्ति पोर्टल, सूद एप एवं पोर्टल, टेलीमेडिसिन सेवा, संतुष्टि पोर्ट का शुभारंभ करने के साथ ही विभिन्न विभागों की लगभग 8554 लाख की योजनाओं का लाकार्पण एवं शिलांयास करेंगे। कलैक्ट्रेट में माननीय मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का स्वागत छोलिया कलाकारों के अवाला सूचना व संस्कृति विभाग के कलाकारों द्वारा कुमाऊॅनी परिवेश में किया जाएगा।

प्रतिभावान बच्चों को अपनी चित्रकारिता का हुनर दिखाने एवं अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाने के लिए जिलाधिकारी श्री सविन बंसल द्वारा लगातार मंच उपब्ध कराया जा रहा है। इसी क्रम में कलैक्ट्रेट तथा कैम्प कार्यालय के मध्य की खाली दीवारों को पेंटिंग हेतु उपयुक्त बनाकर विभिन्न विद्यालयों के 20 ग्रुप्स के 90 विद्यार्थियों को पुनः मंच प्रदान किया गया है। जिसमें बच्चों द्वारा सुन्दर-सुन्दर आकृतियाॅ रंगों और ब्रुश के जरिए उकेरी जा रही हैं। बच्चों द्वारा पूरी तन्मयता के साथ इस काम को अपने हाथ में लिया, बच्चों द्वारा जिलाधिकारी आवास व कलैक्ट्रेट की दीवारों पर सुन्दर-सुन्दर संदेशात्मक चित्र (पेंटिंग) उकेरी जा रही हैं। प्रत्येक पेंटिंग देखने वाले को कुछ न कुछ जीवन का संदेश दे रही है। लोग इनको देखकर काफी आश्चर्यचकित हैं। जनता द्वारा बच्चों की चित्रकारी के साथ ही जिलाधिकारी श्री बंसल की इस पहल की भूरी-भूरी प्रशंसा की जा रही है।
जिलाधिकारी श्री बंसल ने कहा है कि बचपन से ही बच्चे काफी प्रतिभाशाली होते हैं तथा उनके भीतर विभिन्न प्रकार के कलात्मक गुण विद्यमान होते हैं, जरूरत इस बात की है कि बच्चों की इस प्रतिभा को सामने लाने तथा निखारने के लिए एक उचित मंच दिया जाए। उन्होंने कहा कि जिलेभर के बच्चों को साथ लेकर पेंटिंग करायी जा रही है। उन्होंने कहा कि हमारे जनपद के होनहार बच्चे अपनी अद्भुत चित्रकारी प्रतिभा से जिलेभर की सरकारी भवनों की दीवारों, चार दीवारियो तथा खाली पड़ी दीवारों पर सुन्दर-सुन्दर चित्र बनाकर दीवारों को सजायेंगे, इससे दीवारों का विद्रुपीकरण रूकेगा और सरकारी कार्यालयों में आने वाले लोगों को यह चित्र एक सुःखद अनुभव के साथ ही जीवन का संदेश देंगे। श्री बंसल ने कहा कि बच्चों को प्रोत्साहन के लिए प्रशासन की ओर से प्रशस्ति पत्र एवं उपहार भी दिए जा रहे हैं। बच्चों को पेंटिंग के लिए कलर, ब्रुश, यातायात के साथ ही खाने की व्यवस्था भी निःशुल्क की जा रही है। श्री बंसल ने कहा कि वर्तमान सामाजिक ज्वलन्त समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित करने एवं समाज में जागरूकता देने वाले प्रभावशाली बच्चों को मुख्यमंत्री जी द्वारा भी सम्मानित कराया जाएगा।
बच्चे अपनी प्रतिभा, कला और भावनाओं का प्रदर्शन चित्रों और पेंटिंग के माध्यम से इस प्रकार से करते हैं कि लोग देखते रह जाते हैं। कुदरती तौर पर बच्चों को दिया गया यह अनोखा उपहार, उनको एक अच्छे चित्रकार एवं कलाकार के रूप में स्थापित करता है। बच्चों की इस विलक्षण प्रतिभा का मनौवेज्ञानिक अध्ययन करते हुए जिलाधिकारी श्री सविन बंसल ने अभिनव पहल करते हुए स्कूली बच्चों को इस महत्वपूर्ण कार्य के लिए आगे लाने का काम किया। शहर के शासकीय भवनों की चार दीवारियों पर बच्चों द्वारा पेंटिंग का काम प्रारम्भ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर 9 नवम्बर को किया गया है।

About Ghanshyam

I am ex- Hydrographic Surveyor from Indian Navy. I am interested in social services, educational activities, to spread awareness on the global issues like environmental degradation, global warming. Also I am interest to spread awareness about the Junk food.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*